भारतीय फील्डिंग कोच श्रीधर चाहते हैं कि विश्व कप के दौरान रिज़र्व खिलाडी तैयार हों

फील्डिंग कोच श्रीधर इस समय वैसे तो बेहद प्रसन्न हैं कि टीम पूरी तरह तैयार है एवं इनका गेंदबाजी आक्रमण का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है। अब श्रीधर को उम्मीद है कि कुछ वनडे मैचों के अंतर्गत रिज़र्व खिलाडियों को खेलने का मौका मिल सकता है या मिलेगा। एवं टीम के प्रबंधक चाहते हैं कि 50 ओवर के विश्व कप के पूर्व रिज़र्व खिलाडी अपनी तरफ से मैच खेलने के लिए तैयार रहें। और श्रीधर टीम से काफी खुश नज़र आये कि टीम अब मैदान में उतरने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है।

गुरुवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले मैच से पूर्व ही श्रीधर ने यह कहा था कि “जीत एक ऐसी आदत है जिसको हर कोई जारी रखना चाहता है, एवं अपने इसी जोश के साथ बार – बार जीत हासिल करना चाहता हैं”। एवं इन्होने कहा कि अब हमें रिज़र्व खिलाडियों को भी मैदान में उतारना चाहिए और मौका देना चाहिए। अब समय ज्यादा नहीं है और विश्व कप के पहले कुल सात मैच बाकी हैं। अधिकतर पहली पसंद वाली प्लेइंग इलेवन को लगभग तय कर दिया जाता है, एवं जब स्थिति दबाब की हो तो रिज़र्व खिलाडियों को मैदान में उतारा जाता है। एवं कम मैच खेलने के कारण वो काफी बेहतर नहीं खेल पाते लेकिन इस बार इन्हे खेलने का पूरा मौका देना चाहिए क्योंकि रिज़र्व खिलाडी भी काफी अच्छा खेल रहें हैं।

श्रीधर ने यह भी कहा, कहीं ऐसी स्थिति न उत्त्पन्न हो जाये कि मुख्य टीम खेलती रहें और आखिरी में जाकर ऐसा मौका आये कि रिज़र्व को खेलना पड़े, लेकिन अच्छी तैयारी न होने के कारण वो उम्दा प्रदर्शन न कर पायें। हमें हर स्थिति में तैयार रहने की जरुरत है, और हमें अच्छे प्रदर्शन के लिए रिज़र्व खिलाडियों को भी टाइम के रहते तैयार रखना पड़ेगा। इसके साथ ही भारतीय टीम एक मजबूती के साथ प्रदर्शन कर पायेगी। मुझे पूर्ण विश्वाश है कि टीम प्रबंधक भी इस बारे में सोच रहें हैं और इस पर अहम् निर्णय अवश्य लेंगे। इन्होंने कहा कि समय रहते हमें अपनी तैयारी में जुट जाना चाहिए पता नहीं जून में स्थिति क्या बनें एवं किस हालत में हमें खेलना पड़े। इसलिए सारे अनुमान लगा कर हमें अपनी पूरी तैयारी रखना चाहिए ताकि जीत में कोई कमी न रह जाये और हमें बाद में पछताना न पड़े। और यही कारण है कि हमें रिज़र्व खिलाड़ियों  को खेलने का मौका देना चाहिए, जिससे टीम में मजबूती आये।

Be the first to comment on "भारतीय फील्डिंग कोच श्रीधर चाहते हैं कि विश्व कप के दौरान रिज़र्व खिलाडी तैयार हों"

Leave a comment

Your email address will not be published.