क्रिकेट में खिलाड़ियो द्वारा उम्र की गलत जानकारी देने पर 2 साल का लगेगा प्रतिबंध

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने क्रिकेट में खिलाड़ियो की उम्र को लेकर सख्त नियम बनाए है,बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी होते है जो अपनी उम्र के बारे में सही जानकारी नहीं देते है| वैसे तो सभी खेलो में बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी होते है जो अपनी उम्र की सही जानकारी नहीं देते है| भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने हाल में ही जारी एक बयान में कहा है की जितने भी पंजीकृत खिलाड़ी है अगर उनमे से किसी भी खिलाड़ी ने अपनी उम्र की सही जानकारी नहीं दी है और वो खिलाड़ी खुद बीसीसीआई को अपनी उम्र के बारे में सही जानकारी देता है तो ऐसे खिलाड़ियो के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया जाएगा| लेकिन अगर किसी भी खिलाड़ी के उम्र के बारे में गलत दस्तावेज लगे हुए पाए जाते है तो उसे 2 साल कड़ा प्रतिबंध झेलना पड़ेगा| खिलाड़ी चाहे सीनियर हो या जूनियर सभी खिलाड़ियो पर यह नियम लागू होगा,2020-2021 से इस नियम को लागू कर दिया जाएगा| अंडर-16 में खेलने के लिए बीसीसीआई ने केवल 14 से 16 वर्ष के खिलाड़ी ही हिस्सा ले सकते है| बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली के साथ साथ राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख राहुल द्रविड़ भी क्रिकेट में खिलाड़ियो के द्वारा आयु की गलत जानकारी देने जैसी धोखाधड़ी के मुद्दे पर सख्ती से निपटने पर जोर दिया है| भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियो की आयु के बारे में धोखाधड़ी की शिकायत करने के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है|

Be the first to comment on "क्रिकेट में खिलाड़ियो द्वारा उम्र की गलत जानकारी देने पर 2 साल का लगेगा प्रतिबंध"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*