क्रिकेट कमेंट / खाली स्टेडियम में खेलना क्या होता है, हमसे बेहतर कोई नहीं जानता, हमने 10 साल ऐसे ही मैच खेले: बाबर आजम

विराट कोहली से तुलना पर बाबर आजम ने कहा- यह सही नहीं, हम दोनों अलग-अलग तरह के खिलाड़ी हैं बाबर बतौर पाकिस्तान टीम के कप्तान पहली बार टी-20 वर्ल्ड कप खेलेंगे, जो इस साल ऑस्ट्रेलिया में होगा

कोरोनावायरस के कारण खेल धीरे-धीरे पटरी पर लौट रहा है, लेकिन इसमें कई तरह की शर्तें लागू होंगी। सबसे बड़ी बात यह होगी कि स्टेडियम में दर्शक ही नहीं होंगे। इस पर हाल ही में पाकिस्तान वनडे टीम के कप्तान बने बाबर आजम ने कहा कि उन्हें इसकी आदत है। उन्होंने कहा कि खाली स्टेडियम में खेलना क्या होता है, यह उनसे बेहतर कोई नहीं जानता। क्योंकि 10 साल से उन्होंने सभी मैच ऐसे ही खेले हैं।

पाकिस्तान में करीब 11 साल से क्रिकेट बंद था, जो पिछले साल ही पटरी पर लौटा है। उससे पहले पाकिस्तान दुबई, शारजाह और अबु धाबी में अपने घरेलू मैच खेलती थी। यहां पाकिस्तान को फैन्स का बहुत कम सपोर्ट मिलता था और स्टेडियम ज्यादातर खाली ही रहते थे।

बगैर दर्शकों के खेलना मुश्किल होगा
बाबर ने स्थानीय मीडिया से कहा, ‘‘बगैर दर्शकों के खेलना क्या होता है, हमसे बेहतर कोई नहीं जानता है। हमने पिछले 10 साल से दुबई में लगभग खाली स्टेडियम में मैच खेले हैं। इसलिए हम समझ सकते हैं बिना दर्शकों के खेलना कैसा होता है। इसलिए यह फैन्स और हमारे लिए भी मुश्किल होगा। हम इसे मिस करेंगे।

Be the first to comment on "क्रिकेट कमेंट / खाली स्टेडियम में खेलना क्या होता है, हमसे बेहतर कोई नहीं जानता, हमने 10 साल ऐसे ही मैच खेले: बाबर आजम"

Leave a comment

Your email address will not be published.