आईपीएल 2020 की टाइटल स्पॉन्सरशिप 222 करोड़ रुपये में ड्रीम11 को मिली

भारत के सबसे महंगे लीग आईपीएल की टाइटल राइट्स ड्रीम11 ने तीन साल के
लिए खरीद लिए हैं| ड्रीम11 के पास आईपीएल 2020 के अधिकार तो पक्का हैं
लेकिन आने वाले दो साल के लिए उनके पास टाइटल राइट्स के अधिकार उनके
पास रहेंगे या नहीं वो वीवो कंपनी पर निर्भर करता है| अगर वीवो अगले साल
वापिस लौटता है तो ड्रीम11 पर अधिकार नहीं रहेंगे| भारत में चीन के विरोध के
चलते आईपीएल से वीवो ने अपने आपको हटा लिया है,उसके बाद भारतीय क्रिकेट
बोर्ड ने आईपीएल के टाइटल राइट्स के लिए टेंडर निकाले थे,जिसके 10 से 14
अगस्त तक आवेदन लिए गए थे| 18 अगस्त को भारतीय बोर्ड ने ड्रीम11 को
चुनते हुए आईपीएल की टाइटल राइट्स उन्हें दे दी,ड्रीम11 कंपनी पहले साल 222
करोड़ रुपये भारतीय क्रिकेट बोर्ड को देगा और अगर वीवो नहीं लौटता है तो दूसरे
साल 240 करोड़ रुपये दूसरे तीसरे साल 240 करोड़ रुपये देने होंगे| आईपीएल का
आयोजन 19 सितम्बर से यूएई में आयोजित होगा| आईपीएल के टाइटल राइट्स
के टेंडर पर टाटा संस इससे अधिक बोली लगा सकती थी,लेकिन उनकी शर्तो को
बीसीसीआई ने नहीं माना,इसीलिए टाटा संस ने बोली नहीं लगाई| भारतीय क्रिकेट
बोर्ड ने ड्रीम11 के बारे में बताया की ड्रीम11 एक नई स्टार्टअप कंपनी है,इसमें
चीन की कंपनी की हिस्सेदारी भी है लेकिन हिस्सेदारी बहुत कम है,इसीलिए उसे
नजरअंदाज किया जा सकता है| ड्रीम11 को वीवो कम्पनी से लगभग आधी रकम
में टाइटल राइट्स मिले है|

Be the first to comment on "आईपीएल 2020 की टाइटल स्पॉन्सरशिप 222 करोड़ रुपये में ड्रीम11 को मिली"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*