आईपीएल के टूर्नामेंट के दौरान सभी खिलाड़ियो को हर पांचवें दिन कराना होगा कोरोना टेस्ट

इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत 19 सितंबर से युनाइटेड अरब अमीरात में होने जा रही है| जिसके लिए सभी टीम और उनके सभी फ्रेंचाइजी यूएई जाने की तैयारी में लग गए है| आईपीएल में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ को यूएई में कोरोना वायरस की जाँच करने के बाद ही प्रैक्टिस की अनुमति मिलेगी और उसके बाद टूर्नामेंट शुरू होने के बाद सभी खिलाड़ियो और स्टाफ की हर पांचवें दिन कोरोना वायरस की जांच करानी पड़ेगी,भारतीय खिलाड़ियो के अलावा विदेशी खिलाड़ियो को भी इस प्रक्रिया को करना होगा| बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया सभी खिलाड़ियो और सपोर्ट स्टाफ की सुरक्षा से किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जाएगा,आगे उन्होंने कहा की  यूएई पहुंचने के बाद सभी खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ को एक सप्ताह तक आइसोलेशन में रहना होगा और इस दौरान उन सभी को तीन बार कोविड-19 का टेस्ट भी कराना होगा,तीनो टेस्ट नेगेटिव आने पर ही उन्हें प्रैक्टिस की अनुमति मिलेगी| जितने भी खिलाड़ियो का टेस्ट निगेटिव आने के बाद भी टूर्नामेंट में हर पांचवें दिन सभी खिलाड़ियो को कोरोना का टेस्ट कराना होगा। बीसीसीआई ने 20 अगस्त से पहले उड़ान भरने के लिए मना कर दिया है,इसके अलावा खिलाड़ियों के परिवार को साथ रखने और ना रखने का फैसला खिलाड़ियो पर छोड़ दिया है| कोई भी खिलाडी किसी भी स्थिति में बायो सिक्योर घेरे को नहीं तोड़ेगा,ना ही होटल से बाहर निकलेगा, ना ही किसी से मिलेगा| 

Be the first to comment on "आईपीएल के टूर्नामेंट के दौरान सभी खिलाड़ियो को हर पांचवें दिन कराना होगा कोरोना टेस्ट"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*